Harbhajan Singh on hardik Pandya and KL Rahul comment on women | जिस बस में पंड्या-राहुल बैठे हों उसमें बेटी और पत्नी के साथ नहीं बैठूंगा: हरभजन


  • हार्दिक और राहुल ने करण जौहर के टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में विवादित बयान दिया था
  • पंड्या ने टीवी पर कही थी कई महिलाओं के साथ संबंध होने की बात
  • विराट कोहली ने कहा था कि हम उनके विचारों से इत्तेफाक नहीं रखते

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2019, 04:59 PM IST

नई दिल्ली. क्रिकेटर हार्दिक पंड्या और केएल राहुल के महिलाओं पर दिए गए बयान को लेकर पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह ने नाराजगी जताई। उन्होंने दोनों खिलाड़ियों पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसाआई) की कार्रवाई को भी सही ठहराया। हरभजन ने कहा, ”मुझे अगर बेटी और पत्नी के साथ कहीं जाना हो, तो मैं उस बस में कभी नहीं बैठूंगा, जिसमें पंड्या और राहुल मौजूद हों।”

क्या सचिन, कुंबले और हरभजन ऐसे थे?

  1. हरभजन ने कहा, ”पंड्या और राहुल ने महिलाओं को लेकर जो बात टेलीविजन पर कही, वो बातें हम अपने दोस्तों में भी नहीं करते। अब लोग सोच सकते हैं कि क्या हरभजन सिंह, अनिल कुंबले और सचिन तेंदूलकर ऐसे थे?”


  2. बीसीसीआई ने सही कार्रवाई की: भज्जी

    उन्होंने पंड्या को लेकर कहा, ”पंड्या कितने लंबे समय से टीम में है, जो वो इस सभ्यता के साथ टीम की संस्कृति को बता रहा है।” बीसीसीआई की कार्रवाई पर हरभजन ने कहा, ”मेरे हिसाब से ये रास्ता सही है और मैं इस कार्रवाई से आश्चर्यचकित नहीं हूं। बीसीसीआई ने सही काम किया और यह आगे बढ़ने का तरीका भी है।”

  3. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा था, “भारतीय क्रिकेट टीम और जिम्मेदार क्रिकेटर्स के नाते हम उनके विचारों से इत्तेफाक नहीं रखते। उन्होंने जो भी कहा वह व्यक्तिगत है। अभी बोर्ड के फैसले का इंतजार कर रहे हैं।”

  4. हार्दिक और राहुल ने करण जौहर के टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में विवादित बयान दिया था। हार्दिक ने शो में कहा था कि उनके कई महिलाओं के साथ संबंध हैं। विवाद बढ़ने पर पंड्या ने ट्विटर पर एक पोस्ट करते हुए माफी भी मांगी थी।


  5. जांच पूरी होने तक पंड्या और राहुल सस्पेंड

    सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख विनोद राय ने पंड्या और राहुल पर की गई कार्रवाई के बारे में बताया था। उन्होंने कहा था, “जांच पूरी होने तक पंड्या-राहुल को टीम से सस्पेंड कर दिया गया है।”







Source link