Burger से भी सस्ती मिलेगी किरण बाला को पाक की सिटीजनशिप

पाकिस्तान में जत्थे से गायब हुई किरण बाला को वहां नागरिकता भारतीय पिज्जे से भी सस्ती मिलेगी। उसको सिर्फ पाक करंसी में 220 रुपए अदा करके वहां नागरिकता मिल जाएगी। यह रकम भारत के करीब 150 रुपए बनती हैं। इतने रुपए में भारत में एक पिज्जा आता है,जितने में पाकिस्तान की नागरिकता मिलती है।

उल्लेखनीय है कि पी. सी. ए. 1951 के सैक्शन 10 (2) के मुताबिक पाकिस्तानी व्यक्ति के साथ निकाह करवाने वाली विदेशी महिलाओं को नागरिकता हासिल करने के लिए केवल 220 रुपए खर्च करने पड़ते हैं। आपको बताते हैं किरण बाला को पाक नागरिकता लेने के लिए कौन-कौन से दस्तावेज जमा करवाने पड़ेंगे…..

* किरन बाला को एप्लीकेशन फार्म ‘एफ’ लेना पड़ेगा।
*इस एप्लीकेशन फार्म के साथ आवेदक की तरफ से 20 रुपए का नान जुडिशियल स्टांप पेपर वाला एफिडेविट लगेगा। इसमें केस संबंधी सारी जानकारी दी जाएगी।
*एप्लीकेशन फार्म नोटरी पब्लिक या मैजिस्ट्रेट की तरफ से तस्दीक करवाना पड़ेगा।
*इसी तरह का एफिडेविट महिला के पति की तरफ से भी लगेगा।
*एफिडेविट के साथ पाकिस्तान में रहने के दसतावेजों के सबूत भी लगेंगे।
*आवेदक के पासपोर्ट के आवश्यक पेजों की कापी भी लगेगी।
*रिहायशी परमिट,वीजे मैरिज सर्टिफिकेट की फोटोकापी लगेगी।
*भारत में रहते नजदीकी रिश्तेदारों की लिस्ट।
*पति का पाकिस्तानी नागरिकता का सर्टिफिकेट या फिर इस संबंधी कोई अन्य सबूत।
*10 रंगीन तस्वीरें, हलके नीले बैकराऊंड के साथ। इनमें से 2 तस्वीरें नोटरी पब्लिक या मैजिस्ट्रेट की तरफ से तस्दीक की हुई हो ।
*पति के पाकिस्तानी के पासपोर्ट या राष्ट्रीय पहचान पत्र की फोटोकापी।

देनी पड़ेगी भारतीय रिश्तोदारों की सूची

इस एप्लीकेशन फार्म को सबमिट किए जाने तथा कार्रवाई पूरी होने के बाद ही निकाह करवाने वाली विदेशी महिला को पाकिस्तान की नागरिकता मिल जाती है। किरण बाला को भी इसी प्रक्रिया में से निकल कर पाकिस्तानी नागरिकता मिलेगी। यहां उसके लिए एक चीज मुश्किल पैदा कर सकती है। वह है भारत में रहते रिश्तेदारों की सूची। नागरिकता हासिल करने के लिए किरण बाला को भारत में रहते अपने रिश्तेदारों की सूची देनी पडेगी।

क्या बच्चों को करेगी सूची में शामिल

अब सोचने वाली बात यह है कि क्या वह इस सूची में अपने कौन से रिश्तेदारों को शामिल करेगी। इसमें वह अपने बच्चों को शामिल करेगी या नहीं। यदि शामिल करेगी तो क्या कह कर। यहां एक समस्या यह भी है कि किरण बाला का झूठ सामने आने पर भी क्या पाकिस्तान उसकी नागरिकता और निकाह को मान्यता देगा। फिलहाल पाकिस्तान जाना किरण बाला के लिए जितना मुश्किल काम था, उतना ही आसान उसके लिए पाकिस्तान की नागरिकता हासिल करना होगा। इसके बारे अगले कुछ दिनों में पता लग ही जाएगा।