शिया वक्फ बोर्ड द्वारा इस मुद्दे को सुलझाने के लिए तैयार मसौदा 18 नवंबर को उच्चतम न्यायालय को सौंपा गया

राजकोट-  उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड ने सोमवार को राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद को सुलझाने के लिए अयोध्या में विवादित भूमि से अपना अधिकार छोड़ने और लखनऊ में ‘‘मस्जिद ए अमन’’ बनाने का प्रस्ताव दिया था । शिया वक्फ बोर्ड द्वारा इस मुद्दे को सुलझाने के लिए तैयार मसौदा 18 नवंबर को उच्चतम न्यायालय को सौंपा गया। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘शिया वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में एक हलफनामा दायर करके एक अच्छा सुझाव दिया कि अयोध्या में राम मंदिर और लखनऊ में मस्जिद बने । इस मुद्दे को सुलझाने के लिए यह एक अच्छा सुझाव दिया.’’ वह भाजपा के विधानसभा चुनावों के उम्मीदवारों के लिए प्रचार के सिलसिले में शहर में थे।  भाजपा की साफ राय है कि अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बने लेकिन कांग्रेस क्या कहना चाहती है? हम मांग करते हैं कि राहुल गांधी इस मुद्दे पर चुप्पी तोड़कर अपनी पार्टी का रूख स्पष्ट करें.’’ उन्होंने कहा कि भाजपा शिया वक्फ बोर्ड के सुझाव का समर्थन करती है लेकिन कांग्रेस से भी जवाब सुनना चाहती है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*