4 फरवरी से अनिश्चितकालीन चक्का जाम प्रदर्शन शुरू करेगी जैडपीएससी






संगरूर| जमीन प्राप्ति संघर्ष कमेटी की बैठक प्रधान मुकेश मलौद की अगुवाई में कमेटी दफ्तर गदर भवन में हुई। बैठक को संबोधित करते हुए मुकेश मलौद व बलविंदर झलूर ने कहा कि कमेटी की ओर से नजूल जमीनों पर मालिकाना हक दिलवाने, पंचायती जमीन का तीसरा हिस्सा दलितों को 99 वर्षीय पट्‌टे पर देने, जरूरतमंद परिवारों को 10-10 मरले के प्लाट दिलवाने व संघर्ष के दौरान कमेटी के नेताओं पर दर्ज हुए झूठे पर्चे रद करवाने की मांग को लेकर लगातार संघर्ष किया जा रहा है। मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव सुरेश कुमार की ओर से कमेटी के साथ बैठक कर उपरोक्त मांगों को पूरा करने का वादा किया था। परंतु अब तक उन्हें बिना झूठे वायदों के कुछ नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से दलितों को दी जा रही सुविधाओं पर कट लगाए जा रहे है, जिसके तहत दलितों को मिलती 200 यूनिट प्रतिमाह बिजली माफी की सुविधा को खत्म कर हजारों रुपए के बिल भेजे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की इस दलित विरोधी नीतियों व उपरोक्त मांगों को पूरा करवाने के लिए कमेटी की ओर से अनिश्चितकालीन चक्का जाम करने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि यह चक्का जाम प्रदर्शन 4 फरवरी से शुरू किया जाएगा, जिसकी तैयारियों के लिए गांवों में पोस्टर लगाकर, रैलियां व बैठकें कर लोगों को जागरूक किया जाएगा। इस मौके पर मनप्रीत भट्टीवाल, गुरमुख सिंह, गुरप्रीत खेड़ी, सोनी हथोआ, जग्गी चौंदा, हरबंस कौर, गुरदीप दंदीवाल, दर्शन सिंह खेड़ी, कर्मजीत घराचों आदि उपस्थित थे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today



Source link