हाफिज सईद के खिलाफ जबरदस्त कार्रवाई किए जाने की योजना

नई दिल्ली , आतंकवादी संगठन लश्कर-ए तोयबा की स्थापना करने वाले हाफिज सईद की हरकतों से बदनामी झेल रही पाकिस्तान सरकार इस आतंकी सरगना के संगठनों और वित्तीय स्रोतों पर कब्जा करने जा रही है, लेकिन यह कब्जा दिखावटी साबित हो सकता है। समाचार एजेंसी रायटर के अनुसार, पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने विधि मंत्रालय और सभी राज्य सरकारों को हाफिज सईद की देखरेख में चल रहे तथाकथित समाजसेवी संगठनों- जमात उत दावा और फलाहे इंसानियत फाउंडेशन के अधिग्रहण की रूप-रेखा तैयार करने का कहा है। चूंकि यह खबर ऐसे समय आई है जब अमेरिकी प्रशासन की ओर से यह साफ संकेत दिया जा रहा कि वह पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता रोक सकता है इसलिए इसकी भी आशंका है कि पाकिस्तान सरकार हाफिज सईद के संगठनों पर कब्जे का दिखावा करने की तैयारी कर रही है। इसकी आशंका इसलिए और अधिक है, क्योंकि पाकिस्तानी एजेंसियां हाफिज सईद के खिलाफ ऐसे सुबूत जुटाने में हमेशा नाकाम रहीं जिससे उसे नजरबंद रखने का औचित्य सही सिद्ध किया जा सके। मुंबई हमले के बाद से उसे चार-पांच बार नजरबंद किया गया, लेकिन हर बार वह सुबूतों की कथित कमी के कारण बाहर आ गया। पाकिस्तान के मामलों पर निगाह रखने वाले जानकारों का कहना है कि मौजूदा माहौल में यही मानकर चलने में भलाई है कि पाकिस्तान एक बार फिर अमेरिका, भारत समेत विश्व समुदाय की आंखों में धूल झोंकने जा रहा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*