स्वास्थ्य विभाग में दवा खरीद में घपलेबाजी का आरोप – बैंस

चंडीगढ़ – : लोक इंसाफ पार्टी के प्रधान व विधायक सिमरजीत सिंह बैंस ने स्वास्थ्य विभाग में दवा खरीद में घपलेबाजी का आरोप लगाया है। मुख्यमंत्री को दी शिकायत में बैंस ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म मोङ्क्षहद्रा ने दवा खरीद के लिए ऐसे नियम बनवाए हैं कि उनकी चहेती कंपनियां ही टैंडर प्रक्रिया में शामिल हों। इससे आम दुकानों पर मिलने वाली दवाओं को 2-2 हजार प्रतिशत अधिक मूल्य पर खरीदने की तैयारी की गई है।
उनका कहना है कि दवा कंपनियों के साथ 80 करोड़ की डील से 25 करोड़ रुपए कमीशन देने की बात तय हुई है। इसलिए मुख्यमंत्री टैंडर को तत्काल रद्द कर जांच करवाएं। बैंस ने कहा दवा खरीद के लिए जारी टैंडर को 2 बार इसलिए टाला गया क्योंकि तब तक कंपनी वालों से डील फाइनल नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि दवा की गोली का मूल्य आम दुकानों पर 4 रुपए है उसे 40 रुपए में बेचकर 25 करोड़ का स्कैंडल किया जाएगा। सीटागलिप्टिन नामक गोली, जो 40 पैसे की मिल जाती है, उसका मूल्य 50 रुपए तय किया है। ऐसे ही अन्य विल्डागलिप्टिन गोली भी 40 पैसे की बजाय 30 रुपए की खरीदी जानी है। यह गोलियां शूगर पेशैंट्स के लिए हैं।