सिर्फ सम्मन जारी होना गुनाह साबित नहीं करता :सुखपाल सिंह खैहरा

चंडीगढ़-  मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मीडिया के समक्ष माना था कि सिर्फ सम्मन जारी होना गुनाह साबित नहीं करता वहीं दूसरे दिन उन पर दबाव डालकर बयान बदलवाया गया। खैहरा मंगलवार को अपने निवास पर स्त्री अकाली दल द्वारा धरना देने के प्रयास पर पत्रकारों से प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे।  अकाली-भाजपा द्वारा उनके त्यागपत्र की मांग को लेकर बुधवार को राज्यपाल से प्रस्तावित मुलाकात के संबंध में पूछे जाने पर खैहरा ने कहा कि उनसे कहो राज्यपाल तो क्या, राष्ट्रपति से मिलकर मांग कर लें। खैहरा न तो इन दलों जो हमेशा नैतिकता के मामले में दोहरे मापदंड अपनाते रहे हैं , से नैतिकता का पाठ पढ़ेगा और न ही इनकी मांग पर त्याग पत्र देगा, जिसको जो करना है कर ले।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*