सांसद मैंबर भगवंत मान ने इस्तीफा वापिस लेने से किया इंकार

चंडीगढ़: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मजीठिया से माफीनामे के बाद आम आदमी पार्टी में एक बड़ा घमासान मच गया था जिसके बाद आम आदमी पार्टी के संगरूर से सांसद मैंबर भगवंत मान ने इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद भगवंत मान का इस्तीफा नामंजूर कर दिया गया था।
भगवंत मान ने अपना इस्तीफा वापिस लेने से मन कर दिया है। भगवंत मान ने कहा कि केजरीवाल के मजीठिया से माफ़ी मांगने से उन्हें बहुत दुख पहुंचा है। मान ने कहा कि अब वो पार्टी के लिए एक मैंबर की तरह ही काम करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें यकीन नहीं हो रहा है कि अरविंद केजरीवाल ने इतना बड़ा कदम उठाते हुए उनसे जा किसी सीनियर नेता से सलाह तक नहीं की। गौरतलब है कि ड्रग मामले में सम्बंधित आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय कन्नवीनर और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया से लिखित माफ़ी मांगी थी, जिस के बाद भगवंत मान और अमन अरोड़ा ने इस्तीफ़ा दे दिया था। आप के संसद मैंबर भगवंत मान ने इस्तीफ़ा वापस लेने से इनकार किया जिस के बाद दिल्ली के में आप विधायकों की एक मीटिंग हुई थी, जिस में भगवंत मान गैरहाज़िर रहे जबकि अमन अरोड़ा मीटिंग के में पहुंचे थे।