शिक्षा का स्तर उठाने के लिए लेंगे स्टेट अवार्डी शिक्षकों की सेवाएं






पंजाब के स्कूलों में दिन ब दिन नीचे गिर रहे शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने के लिए शिक्षा विभाग अब एक नई नीति पर काम करने जा रहा है। इसके लिए अब नेशनल और स्टेट अवार्डी अध्यापकों और स्कूल मुखियों की सेवाएं लेगा।

शिक्षा विभाग में काम करते बहुत से स्कूल मुखियों, अध्यापकों को स्कूल में किए गए बढ़िया कामों के लिए नेशनल / स्टेट अवार्ड देकर सम्मानित किया गया था। इस संबंधी एक मीटिंग शिक्षा विभाग सेक्रेटरी की अध्यक्षता में 14 जनवरी को पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड मोहाली के ऑडिटोरियम हॉल में समूह जिलों के स्टेट, नेशनल अवार्डी अध्यापकों, मुख्य अध्यापकों के साथ रखी गई है। शिक्षा विभाग का मानना है कि नेशनल/ स्टेट अवार्डी अध्यापकों द्वारा इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने, विद्यार्थियों की संख्या को बढ़ाने और बोर्ड के 100 परसेंट नतीजे प्राप्त करने के लिए जो बढ़िया और अहम कार्य किए गए हैं, उनके तजुर्बे का फायदा लिया जाना चाहिए। इसके लिए सभी जिलों के जिला शिक्षा अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने अपने जिलों के नेशनल /स्टेट अवार्डी अध्यापकों, मुख्याध्यापक को मीटिंग में आना और अपने तजुर्बे और बढ़िया कारगुजारी की रिपोर्ट की सॉफ्ट /हार्ड कॉपी साथ लेकर हाजिरी यकीनी बनाएं। इसके बाद इन रॉल मॉडल अध्यापकों की सेवाएं लेकर विद्यार्थियों की मदद करने का प्रयास किया जाएगा। (केके गुप्ता)

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today



Source link