राहुल गांधी तीन दिन तक चलने वाले चिंतन शिविर के अंतिम दिन शुक्रवार को होंगेइसमें शामिल

अहमदाबाद, पीटीआई। गुजरात विधानसभा चुनाव परिणाम आने के दो दिन बाद ही नतीजों को लेकर कांग्रेस ने विश्लेषण का काम शुरु कर दिया है। राहुल गांधी तीन दिन तक चलने वाले चिंतन शिविर के अंतिम दिन शुक्रवार को इसमें शामिल होंगे। इस दौरान वे कार्यकर्ताओं को संबोधित भी करेंगे। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने कहा कि शिविर के दौरान परिणाम को लेकर जिलेवार विश्लेषण किया जाएगा और 2019 के लोकसभा चुनाव के रोडमैप पर चर्चा की जाएगी। बता दें कि सोमवार को आए चुनाव परिणाम में गुजरात की जनता ने भाजपा को एक बार फिर से सरकार बनाने का मौका दिया है। कांग्रेस सत्ता में नहीं आ सकी लेकिन पिछली बार के मुकाबले उसकी सीटें 61 से बढ़कर 77 हो गई हैं। जबकि तीन अन्य सीटों पर उसके सहयोगियों ने कब्जा किया। जबकि छठी बार सत्ता में आई भाजपा को पिछली बार के मुकाबले 16 सीटों का नुकसान हुआ। कांग्रेस ने इस बार ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन शहरी क्षेत्र में ऐसा करने में नाकाम रही। सोलंकी के अनुसार बुधवार और वीरवार को चिंतन शिविर का स्थल मेहसाणा जिले में होगा और शुक्रवार को इस जगह में बदलाव किया जाएगा। अंतिम दिन ये आयोजन अहमदाबाद में होगा। शिविर में प्रमुख रूप से 2019 के लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए संगठन को मजबूत करने और लोगों के साथ जुड़ने को लेकर गहन मंथन किया जाएगा। उधर, कांग्रेस के महासचिव और गुजरात चुनाव प्रभारी अशोक गहलोत ने चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर संतोष व्यक्त करते हुए भाजपा पर सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाया। चिंतन शिविर में भाग ले रहे गहलोत ने कहा कि भले ही कांग्रेस सरकार बनाने में असमर्थ रही लेकिन सीटों और प्रचार के मामले में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन किया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*