युवक व पुलिस पर गोलियां चलाकर भागा तस्कर पत्नी व साथी समेत काबू






पुलिस पार्टी समेत गांव के एक युवक पर गोली चलाकर कातिलाना हमला करने के मामलों में नामजद एक दंपति समेत तीन लोगों को पुलिस ने काबू किया। इस दौरान आरोपियों से वारदात में इस्तेमाल की गई देसी पिस्तौल और छीना गया मोटरसाइकिल बरामद किया। गिरोह का सरगना कर्मजीत सिंह नशा तस्करी का आदी है जोकि 6 माह पहले ही जेल से जमानत पर बाहर आया था। आरोप है कि उसने जेल से निकलने के बाद फिर से गिरोह बनाकर वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया था। एसएसपी डॉ. संदीप गर्ग ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी गांव मोड़ा से नागरी रोड पर मोटरसाइकिल से जा रहे हैं। ऐसे में पुलिस ने रोड पर नहर के पुल पर आरोपी कर्मजीत सिंह और उसकी प|ी प्रभजीत कौर, जगदीप सिंह को काबू कर लिया। आरोपियों से वारदात में इस्तेमाल की गई देशी पिस्तौल, 2 जिंदा कारतूस और छीना गया मोटरसाइकिल बरामद किया। कर्मजीत पर एक्साइज एक्ट के 8, गिरोहबंदी 1 और लूटपाट व इरादा कत्ल के 3 मामले दर्ज हैं। जगदीप सिंह पर लड़ाई-झगड़े के 2 और लूटपाट व इरादा कत्ल का 1 मामला दर्ज है। उन्होंने बताया कि नशा तस्करी का आदी आरोपी कर्मजीत सिंह निवासी बीहला और उसकी प|ी प्रभजीत कौर गांव महिला में किराए के मकान में रहते थे। 23 दिसंबर को गांव के जगतार सिंह ने पुलिस को शिकायत दी थी कर्मजीत सिंह शराब पीकर उससे गाली-ग्लौज करने लगा। उसकी प|ी भी उसे गाली गलोच करने लगी। उसने ऐसा करने से रोका तो कर्मजीत सिंह ने पिस्तौल निकाल कर उस पर फायर कर दिया, जिसमें वह बाल-बाल बचा। इस दौरान गांव के लोगों को इकट्ठे होता देख दोनों मौके से भाग गए। रास्ते में कर्मजीत सिंह ने अपने साथी जगदीप सिंह की मदद से गांव के ही अंतरजामी से पिस्तौल की नौक पर मोटरसाइकिल छीन लिया था। ऐसे में पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध दोनों घटनाओं को लेकर इरादा कत्ल व लूट का मामला दर्ज किया।

प्रेस कांफ्रेस में पकड़ी गई पिस्तौल को दिखाते पुलिस अधिकारी।

7 को पुलिस पार्टी पर फायर कर हुए थे फरार

आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए डीएसपी दिड़बा विलियम जेजी, एसएचओ छाजली दीपइंदर सिंह जेजी और महिला चौकी के इंचार्ज हीरा सिंह की टीम का गठन किया गया था। 7 जनवरी को पुलिस पार्टी गश्त के दौरान महिला से नागरी की तरफ जा रहे थे। शाम को करीब साढ़े 4 बजे गांव नागरी के बाहर कर्मजीत सिंह, हरप्रीत सिंह और सुखप्रीत सिंह मोटरसाइकिल पर आते दिखाई दिए। पुलिस ने इन्हें रुकने का इशारा किया तो इनका मोटरसाइकिल स्लीप होकर गिर गया। कर्मजीत सिंह और हरप्रीत सिंह पिस्तौल से पुलिस पार्टी पर फायर करते हुए मौके से फरार हो गए। आरोपियों के विरुद्ध इरादा कत्ल का मामला दर्ज किया गया था।

आरोपियों के 2 साथियों की गिरफ्तारी बाकी : एसएसपी

डॉ. संदीप गर्ग ने बताया कि आरोपियों के 2 साथी हरप्रीत सिंह और सुखप्रीत की अभी गिरफ्तारी बाकी है। जिसके लिए पुलिस उनके ठिकानों पर रेड़ कर रही है। उनको जल्द गिरफ्तार करके केस को आगे बढ़ाया जाएगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Sangrur News – youth and police shot firing by smugglers wife and companions



Source link