प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार स्कूल बस कंडक्टर अशोक कुमार बुधवार को जेल सेहो गया रिहा

गुड़गांव: रेयान स्कूल के सात साल के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के सिलसिले में गिरफ्तार कंडक्टर बुधवार को जेल से रिहा हो गया ।अशोक ने घर लौटने पर मीडिया को धन्‍यवाद कहा. आपको बता दें कि गुड़गांव की एक अदालत ने उसकी जमानत मंजूर की थी।  भोंडसी जेल से रिहा किये जाने के बाद अशोक वहां से सीधे सोहना के घांबरोज गांव में अपने घर गया. उसके साथ उसके वकील मोहित वर्मा और परिवार के सदस्य थे. अशोक की पत्‍नी ने एएनआई ने कहा कि पुलिस ने उसके पति को उल्टा लटकाकर मारा और टॉर्चर किया। उसने बताया कि अशोक से गुनाह कबूलवाने के लिए नशा भी दिया।खबरों के मुताबिक ग्राम प्रधान और अन्य निवासियों ने अशोक के पिता अमीरचंद को 50 हजार रुपये की जमानत राशि जुटाने में मदद की।पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि सात वर्षीय प्रद्युम्‍न की मौत कुछ ही मिनटों में बड़ी मात्रा में खून बहने के कारण हो गई थी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*