पंजाब में कैप्‍टन मंत्रिमंडल का शीघ्र विस्‍तार होने की संभावना

चंडीगढ़-  पंजाब में जल्‍द ही मंत्रिमंडल का विस्‍तार होने की संभावना है। इस संबंध में विचार-विमर्श और नए बनाए जाने वाले मंत्रियों के नामों पर आलाकमान की मुहर लगवाने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह दिल्ली चले गए हैं। मुख्यमंत्री 8 जुलाई को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर बैठक करेंगे। कैप्‍टन के दिल्‍ली जाने के साथ ही पंजाब में मंत्री पद के चाहवानों की हलचल बढ़ गई हैं। प्रदेश में मुख्यमंत्री समेत इस समय 10 मंत्री हैं। अभी आठ मंत्री और बनाए जाने हैं। यह तय है कि मंत्रिमंडल का विस्तार दो चरणों में होगा। पहले चरण में चार से छह मंत्री बनाए जा सकते हैं। मंत्री पद की आस लगाए विधायकों की लिस्ट काफी लंबी है। विधानसभा में कांग्रेस के 77 विधायक हैं। मुख्य संसदीय सचिव (सीपीएस) की राह बंद होने के कारण विधायकों का पूरा फोकस मंत्री पद पर आ गया है। माना जा रहा है कि 8 जुलाई को राहुल गांधी के साथ कैप्टन की होने वाली बैठक में मंत्रिमंडल के विस्तार की तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी। मंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे संगरूर के विधायक विजय इंदर सिंगला हैं। वह राहुल गांधी के करीबी भी हैं और पूर्व सांसद भी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*