जुकरबर्ग ने डाटा लीक मामले में गलती स्वीकार की

फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक डाटा लीक मामले में कम्पनी की कमियों को स्वीकार करते हुए माफी मांगी है। जुकरबर्ग ने सीएनएन से साक्षात्कार में कहा ‘यह बड़ा विश्वासघात था। इसके लिए मुझे खेद है। लोगों के डाटा को सुरक्षित रखना हमारी ज़िम्मेदारी है।’ उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट में कहा कि हमसे कई गलतियां हुईं हैं, लेकिन उनको ठीक करने को लेकर काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अभी और पहले सामने आई समस्याओं के समाधान के लिए फेसबुक की तरफ से कई दम उठाए जाएंगे। जुकरबर्ग ने कहा कि वह उन हज़ारों एप्लिकेशन की जांच करेगा जिसका इस्तेमाल उस वक्त बड़ी संख्या में किया गया। उन्होंने कहा कि फेसबुक अपने यूजर्स को एक नया टूल देगा कि ताकि उन्हें पता चले कि उनके डाटा का इस्तेमाल कैसे किया जा रहा है, साझा किया जा रहा है, और आगे से डेवलपर्स के दुरुपयोग को रोकने के लिए डाटा तक उसके पहुंच को प्रतिबंधित कर देगा।
मार्क जुकरबर्ग ने कहा है कि भारत जैसे देशों में आगामी चुनावों की निष्पक्षता सुनिश्चित करने के लिए फेसबुक अपने सुरक्षा सुविधाओं में इज़ाफा कर रहा है।