ग्यारहवीं के स्टूडेंट ने रची अगवा से लेकर हत्या तक की साजिश,अफसोस बच्ची को बचा ना पाए

अंबाला- यहां घर के बाहर खेल रही पांच साल की वैष्णवी का करीब साढ़े 4 बजे किडनैप हो गया। परिवार उसकी तलाश कर रहा था, तभी शाम करीब 7 बजे किडनैपर्स ने यूपी के नंबर से पड़ोसी के फोन पर कॉल करके 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी। यह कॉल बच्ची को रिहा करने के लिए किया गया था। परिवार से मिली सूचना के बाद पुलिस अलर्ट तो हुई, लेकिन बच्ची को नहीं बचा पाई। क्योंकि इससे पहले ही किडनैपर बच्ची को पानी में डुबो कर मार चुका था और उसने पुलिस को गुमराह करने के लिए शव को कूलर में छिपा दिया था। बुधवार शाम गांव बोह में रहने वाली वैष्णवी सिसिल कॉन्वेंट स्कूल में यूकेजी की स्टूडेंट थी।वह अपने चाचा विनय सूद को चाय देने गई थी। इसके बाद वह खेलने चली गई।खेलते-खेलते किसी ने उसका किडनैप कर लिया। परिवार को इसकी कानोंकान भनक तक नहीं लगी।जब शाम करीब 6 बजे तक बच्ची घर नहीं लौटी तो परिवार ने इधर-उधर तलाश शुरू की लेकिन कोई सफलता परिवार के हाथ ना लगी। हालांकि इस बीच वैष्णवी के पिता अमित सूद ने पुलिस को सूचित भी किया। फिर भी उसकी कोई जानकारी नहीं हुई।शाम 7 बजे अमित सूद के पड़ोसी के पास एक अनजान नंबर से कॉल आया जिसने फोन पर अमित की बेटी वैष्णवी को छोड़ने की एवज में 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी।वह युवकों से कोई और बात कर पाता, इससे पहले फोन कट हो गया। लिहाजा, आनन-फानन में पड़ोसी ने इस बात की जानकारी अमित को दी जिसे सुनते ही पूरा परिवार सहम गया क्योंकि उन्हें इस बात का जरा भी आभास नहीं था कि कोई उनसे इस तरह की डिमांड भी कर सकता है। पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया कि वैष्णवी के अगवा करने के बाद हत्या की साजिश कैंट के ही एक नामी एडिड स्कूल में पढ़ने वाले 11वीं क्लास के स्टूडेंट ने रची है।यह सब छात्र ने क्यों और किसलिए किया, अभी इस बात का पता नहीं चल पाया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*