कैदियों का दुस्साहसः कपूरथला जेल से दी जेल मंत्री को फोन पर दी बधाई,कठघरे में प्रशासन

जेलों में बंद अपराधियों का दुस्साहस इतना बढ़ गया है कि दो कैदियों ने नव नियुक्त जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा को फोन पर जेल मंत्री बनने की बधाई तक दे डाली। केंद्रीय जेल कपूरथला से जेल मंत्री को बधाई का फोन आने के बाद जेल प्रशासन कठघरे में आ गया है। जेल मंत्री ने खुद इस बात की पुष्टि की और कहा कि उन्हें मंगलवार को यह फोन आया था। उन्होंने इसके बारे में ज्यादा बताने से इन्कार किया। रंधावा ने कहा कि जेलों में मोबाइल फोन के इस्तेमाल को रोकना उनकी प्राथमिकता है।

जेल से मोबाइल या अन्य सामान मिलने पर कैदी व हवालाती पर कार्रवाई की बजाय जेल सुपरिंटेंडेंट पर कार्रवाई की जाएगी। हालांकि, इस मामले में उन्होंने कपूरथला जेल के सुपरिंटेंडेंट को पहली बार चेतावनी देकर छोड़ दिया है। वहीं, डिप्टी सुपरिंटेंडेंट ललित कोहली ने ऐसी घटना से इन्कार किया। रंधावा ने कहा कि जेलों में मोबाइल का इस्तेमाल धड़ल्ले से हो रहा है। नाभा, गुरदासपुर, कपूरथला और पटियाला जेल संवेदनशील जेलें हैं। जेलों में बंद हवालाती को अदालत में पेश करने की बजाय उनकी वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी का फैसला किया गया है। हाईकोर्ट ने पटियाला जेल में अदालत लगाने की आज्ञा भी दे दी है। उन्होंने कहा कि अति गंभीर मामलों में बंद कैदियों को एक जेल से दूसरी जेल में बदलने की आज्ञा नहीं दी जाएगी।