केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक जवान को चेतावनी पत्र जारी

नई दिल्ली- केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक जवान को कमांडिंग ऑफिसर (सीओ) ने इस बात के लिए चेतावनी पत्र जारी किया कि उन्होंने सेना के सर्वोच्च कमांडर राष्ट्रपति के प्रति असम्मान जाहिर किया। हालांकि, अब इस पत्र को वापस ले लिया गया है। चेतावनी पत्र के मुताबिक, पिछले महीने जम्मू-कश्मीर के सीआरपीएफ कैंप में निरीक्षण के दौरान सीओ ने सूबेदार मेजर पन्नालाल ठाकुर से हवलदार सोमवीर सिंह को बुलाने के लिए कहा था। पन्नालाल ठाकुर ने आदेश का पालन करते हुए सोमवीर सिंह को ‘मेजर’ संबोधित करते हुए बुलाया। मेजर सेना में एक रैंक होती है, लेकिन सेना में जवान एक-दूसरे को आपसी बातचीत में इसी संबोधन से बुलाते हैं। लेकिन, सीओ ने इसे सेना के सर्वोच्च कमांडर राष्ट्रपति के प्रति असम्मान के रूप में देखा और उसी दिन पन्नालाल ठाकुर के नाम एक चेतावनी पत्र जारी कर दिया। सीआरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उस शब्द के इस्तेमाल और राष्ट्रपति के बीच कोई संबंध नहीं था, लिहाजा उक्त चेतावनी पत्र को वापस ले लिया गया है।