कृषि विभाग ने किया 9,771 क्विंटल गेहूं बीज सबसिडी पर वितरित

कृषि विभाग ने पटियाला जिले में किसानों को गेहूं की विभिन्न किस्मों का 9,771 क्विंटल बढ़िया बीज सबसिडी पर वितरित किया है। किसानों को 1 हजार रुपए प्रति क्विंटल की सबसिडी उनके बैंक खातों में जमा करवाई जा रही है। कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ एक साल के दौरान किए गए कार्यो के संबंध में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक के दौरान डिप्टी कमिश्नर कुमार अमित ने बताया कि कृषि विभाग की ओर से रबी सीजन दौरान ब्लाक स्तर पर कैंप लगाकर किसानों को जागरूक किया गया। उन्होंने बताया कि विभाग ने किसानों को उनके खेत की मिट्टी और पानी के मुताबिक सलाह देने के लिए मिट्टी के 21,211 सैंपल भरे गए जबकि इसी दौरान पानी के 31,437 सैंपल लिए गए हैं। कुमार अमित ने बताया कि 2016-17 की तुलना में 2017-18 में जिले में गेहूं का रकबा 2,338 हजार हैक्टेयर से कम कर 2,33़5 हजार हैक्टेयर रह गया है। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि गेहूं के रकबे में कमी आई है परंतु औसत उपज बढ़ने की उम्मीद है। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि खेतों में हरी खाद उगाने के लिए 200 क्विंटल जंतर अथवा ढ़ांचा का बीज 50 प्रतिशत सबसिडी पर दिया गया। इसी तरह जिला पटियाला में खादों का प्रबंध बिल्कुल ठीक रहा। यूरिया और डी़ ए़ पी़  खाद में कोई कमी नहीं रही और न ही फील्ड में खाद की कमी की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। कुमार अमित ने बताया कि गुणवत्ता नियंत्रण के तहत किसानों को माणक इनपुट्स (खाद बीज और कीड़ेमार दवाएं) सप्लाई करवाने के लिए समय-समय पर चौकिंग कर सैंपल भरे गए हैं। कीड़ेमार दवाओं के 127 सैंपल भरे 93 के परिणाम प्राप्त हुए जिन में से 4 फेल रहें, इसी तरह बीज संबंधी एक्ट अधीन 200 सैंपल लिए गए 130 के परिणाम प्राप्त हुए, बीजों के 180 सर्विस सैंपल भी भरे गए जिनमें से 150 के परिणाम प्राप्त हुए हैं इसी तरह खादों के 172 सैपल लिए, 125 के परिणाम प्राप्त हुए और 4 फेल रहे।