औलाद न होने की जलन में एक महिला ने की जेठ की नौ वर्षीय बेटी की जान लेने की कोशिश

कोटकपूरा –  शादी के दो वर्ष बाद तक खुद के औलाद न होने की जलन में एक महिला इस कदर निर्दयी व बेदर्द हो गई कि उसने अपने सगे जेठ की इकलौती नौ वर्षीय बेटी की जान लेने की कोशिश कर दी।पुलिस ने पीड़ित नाबालिग बच्ची के पिता के बयान पर बच्ची की चाची पर इरादा-ए-कत्ल का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने इस मामले में कोई तंत्रमंत्र अथवा बली की संभावना से इंकार किया है। मजदूरी का काम करते कोटकपूरा के जैतो रोड पर बनी बस्ती लालेआणा के रहने वाले मनप्रीत सिंह द्वारा थाना सिटी पुलिस को दी गई।शिकायत के अनुसार वह अपने भाई अमनप्रीत सिंह के साथ एक ही घर में अलग-अलग कमरों में रहता था। उसके एक बेटी है जबकि उसके भाई की शादी के दो वर्ष बाद तक भी कोई औलाद नहीं हुई। शिकायतकर्ता के अनुसार 17 जनवरी को दोपहर करीब साढ़े दस बजे उसकी पत्नी ने फोन पर बताया कि उसकी चौथी कक्षा में पढ़ती नौ वर्षीय इकलौती बेटी खुशप्रीत कौर घर में घायल अवस्था में बेहोश मिली है व उसके कलाई पर किसी तेजधार हथियार से काटे जाने के निशान हैं। फोन मिलते ही वह कोटकपूरा के सिविल अस्पताल पहुंचा जहां उसकी बेटी का इलाज चल रहा था। बेटी खुशप्रीत कौर की गंभीर हालत को देख सिविल अस्पताल के डॉक्टर ने मेडिकल कॉलेज भेज दिया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*