आस्ट्रेलिया ने चौथे एशेज टेस्ट के पहले दिन चाय तक इंग्लैंड के खिलाफ अपनी स्थिति मजबूत रखी

मेलबर्न: नोबाल पर मिले जीवनदान के बाद डेविड वार्नर के शतक से आस्ट्रेलिया ने चौथे एशेज टेस्ट के पहले दिन चाय तक इंग्लैंड के खिलाफ अपनी स्थिति मजबूत रखी। वार्नर को 90 रन का स्कोर पार करने के बाद 40 मिनट तक शतक का इंतजार करना पड़ा। वह जब 99 रन पर थे तब पदार्पण कर रहे टाम कुरेन के 5वें ओवर की अंतिम गेंद पर मिड आन पर कैच दे बैठे। इंग्लैंड का जश्न हालांकि ज्यादा देर नहीं चला और रीप्ले में दिखा कि कुरेन का पैर क्रीज से बाहर था जिसके बाद अंपायर ने इसे नोबाल करार देकर वार्नर को बल्लेबाजी के लिए वापस बुलाया। वार्नर ने अगली गेंद पर एक रन के साथ शतक पूरा किया। चाय के समय कप्तान स्टीव स्मिथ पांच जबकि उस्मान ख्वाजा 10 रन बनाकर खेल रहे थे जिससे आस्ट्रेलिया ने दो विकेट पर 145 रन बना लिए हैं। टीम हालांकि दूसरे सत्र में 26 ओवर में 43 रन ही जोड़ सकी। वार्नर शतक पूरा करने के तुरंत बाद जेम्स एंडरसन की गेंद पर विकेटकीपर जानी बेयरस्टा को कैच दे बैठे। उन्होंने 151 गेंद में 13 चौकों और एक छक्के की मदद से 103 रन बनाए। वार्नर ने अपने 70वें टेस्ट में 6000 रन भी पूरे किए। वह आस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों के बीच इस आंकड़े को सबसे जल्दी छूने वालों की सूची में ग्रेग चैपल के साथ संयुक्त रूप से चौथे स्थान पर हैं। इस सूची में डान ब्रैडमैन, रिकी पोंटिंग और मैथ्यू हेडन उनसे आगे हैं। अॉस्ट्रेलिया ने दूसरे सत्र में सलामी बल्लेबाज कैमरन बेनक्राफ्ट का विकेट भी गंवाया जो 35वें ओवर में 26 रन बनाने के बाद क्रिस वोक्स की गेंद पर पगबाधा हुए। उन्होंने वार्नर के साथ पहले विकेट के लिए 122 रन जोड़े। इससे पहले आस्ट्रेलिया ने टास जीतकर सपाट पिच पर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद वार्नर और बेनक्राफ्ट ने सतर्क शुरुआत की और पहले घंटे में 37 रन जोड़े।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*