आर्बिट बस में सैनिक की पत्नी से अश्लील हरकत

आर्बिट बस के कंडक्टर, सहायक तथा उनके साथियों ने मिलकर एक सैनिक की पत्नी तथा बेटी के साथ छेड़छाड़ तथा विरोध करने पर उनसे मारपीट करने का मामला सामने आया है। सिटी मलोट की पुलिस ने इस मामले में मोहन लाल पुत्र इंदराज निवासी आर्मी कैंट अबोहर जिला फाजिल्का की शिकायत पर बस कंडक्टर सुखबीर सिंह पुत्र लाभ सिंह निवासी खुड्डियां, सहायक मनप्रीत सिंह पुत्र राजा सिंह निवासी ख्योवाली तथा 9 अन्य अज्ञात व्यक्तियों के विरुद्ध मामला दर्ज कर 2 को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस को दी गई शिकायत में जिला फाजिल्का के अबोहर में तैनात सेना के जवान ने बताया है कि वह बुधवार को जालंधर से अबोहर आने के लिए अपनी पत्नी व बेटियों के साथ आर्बिट कंपनी की बस (नंबर पी 03 एजे 7526) में सवार हुआ था। रात साढ़े नौ बजे मुक्तसर पहुंचने पर बस में सवार हुए एक अज्ञात व्यक्ति ने उसकी पत्नी के साथ छेड़छाड़ की। विरोध करने पर उलटा वह उन्हीं के साथ मारपीट की व गाली गलौच करते हुए बस से नीचे उतर गया। जब बस मलोट की ओर रवाना हुई तो उक्त व्यक्ति दोबारा कुछ लोगों के साथ पिछले गेट से बस में सवार हो गया। बस मलोट पहुंची तो उक्त अज्ञात व्यक्ति ने कुछ और लोगों के साथ मिलकर उसकी पत्नी व बेटियों के साथ दोबारा छेड़छाड़ शुरू कर दी। विरोध करने पर उक्त लोगों ने बस के कंडक्टर तथा उसके सहायक को भी अपने साथ मिला लिया। जब वह बस स्टैंड पर उतरने लगे तो ड्राइवर के सहायक ने भी छेड़छाड़ की। इसके बाद सैनिक की पत्नी ने उसे पकड़ पिटाई कर दी। इस पर ड्राइवर व कंडक्टर ने अन्य लोगों के साथ मिलकर पत्नी व उसके पारिवारिक सदस्यों से मारपीट की।

हंगामा देख लोग एकत्रित होने शुरू हो गए। इसी बीच बस चालक ने बस को भगाने की कोशिश भी की, लेकिन लोगों ने रोक लिया। सैनिक ने यह भी आरोप लगाया कि मारपीट के दौरान जहां उसका मोबाइल फोन तोड़ दिया गया। वहीं पत्नी के स्वर्ण आभूषण भी गुम हो गए। डीएसपी भूपिंदर सिंह रंधावा ने बताया कि पीड़ित मोहन लाल की शिकायत के आधार पर बस के कंडक्टर गांव खुडिडयां निवासी सुखबीर सिंह तथा सहायक गांव ख्योवाली निवासी मनप्रीत सिंह के अलावा नौ अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया गया है। कंडक्टर व ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है।