आम आदमी पार्टी ने कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार के खिलाफ ‘चार्जशीट’ पेश की

चंडीगढ़ – आम आदमी पार्टी (आप) ने पार्टी में मचे घमासान के बीच आज कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार पर ‘चार्जशीट’ पेश की जिसमें सरकार पर पंद्रह आरोप लगाये गये है। पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के माफीनामे से पंजाब इकाई में मचे घमासान के बीच विधायकों की बैठक के बाद विधानसभा में विपक्ष के नेता सुखपाल सिंह खेहरा ने यह ‘चार्जशीट’ पेश की और कहा कि आज के दिन पिछले साल कांग्रेस ने 77 सीटें जीतकर सत्ता में वापसी की थी। उन्होंने कहा हालांकि जीत मतदाताओं को किये झूठे वायदों के कारण थी। पार्टी के यहां जारी बयान के अनुसार आप और लोक इंसाफ पार्टी गठबंधन ने यह आरोप तय किये हैं यह अलग बात है कि माफीनामा प्रकरण की रु में आज लोक इंसाफ पार्टी ने भी खुद को आप से अलग कर लिया। बहरहाल चार्जशीट में कांग्रेस सरकार पर लगाये आरोपों में किसानों से कर्ज माफी के मुद्दे पर छलने, नशे पर नियंत्रण के नाम पर झूठी कसम खाने, हर घर रोजगार का वायदा पूरा करने में विफल रहने, भ्रष्टाचार को संरक्षण देने और बर्दाश्त करने, कैप्टन अमरिंदर और बादल परिवार पर‘दोस्ताना मैच’खेलने, खनन माफिया पर काबू पाने में विफलता, कर्मचारियों से भेदभाव बरतने, दलितों, पिछड़ों और अन्य कमजोर वर्गों से विश्वासघात करने, बाबुओं की बाबुओं के लिए और बाबुओं से सरकार चलाने, राज्य की खस्ता माली हालत को और खस्ता बनाने, माफिया राज समाप्त करने में अक्षम रहने, हल्का प्रभारियों की गैरकानूनी विरासत को आगे बढ़ाने, पुलिस, प्रशासनिक सेवाओं का राजनीतिकरण करने, शिक्षा, स्वास्थ्य, महिला सशक्तीकरण, विकास जैसे आम जनता के मुद्दों की अनदेखी करने और अन्य वायदे न निभाने के आरोप लगाये हैं।