अपनी दुकानदारी के लिए स्कूलों को किया जा रहा है परेशान

राजपुरा- बच्चों तथा उनके माता-पिता व आम जनता की सुविधा के लिए सी.बी.एस.ई. व आई सी एस ई के अन्तर्गत आने वाले स्कूलों ने नये सत्र के शुरू होने से 1 महीना 20 दिन पहले ही किताबों की लिस्ट जारी कर दी है। जबकि किसी अन्य शहर मंे किसी भी स्कूल ने कोई भी लिस्ट जारी नहीं की है। राजपुरा के स्कूलों के द्वारा उठाये गये इस कदम की आम जनता व आला अधिकारियों ने प्रशंसा की है।
परन्तु यह दुख की बात है कि कुछ गैर-जिम्मेदार लोग जोकि अपने आप को बच्चों व उनके माँ-बाप कि हितैषी बताते है व उनके माध्यम से अपने स्वार्थ व निजी कारोबार को बढाना चाहते है। वह स्कूल प्रशासन को यह भी धमकियाँ दे रहे है कि उन्हें पब्लिकेशन से सीधे किताबे दिलवाई जाएँ नही ंतो उनके खिलाफ संघर्ष तेज कर दिया जाऐगा और धरने भी दिये जायंेगें। इस प्रकार की धमकियों के कारण राजपुरा को शैक्षणिक माहौल खराब हो रहा है और बच्चों की पढाई पर भी इसका असर पड़ रहा है।
स्कूल एसोसियेशन आम जनता से विनती करता है कि उन्हें किताबों व स्टेशनरी जहाँ से सस्ती मिलें वहाँ से ले लें तथा जिन्हें भी किताबों की लिस्ट चाहिए है वह स्कूल के नोटिस बोर्ड से या स्कूल की बेबसाईट से नोट कर सकते है। स्कूल प्रशासन का निजी तौर पर किसी भी पब्लिकेशन या दुकानदार से कोई भी लेना-देना नहीं है। किताबों का चुनरव उसमंे दिए गये पाठयक्रम व बच्चों के फायदे को ध्यान मंे रख कर किया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*